Home राजनीति सर्वे में देश के टॉप 3 सीएम में एक भी भाजपा का...

सर्वे में देश के टॉप 3 सीएम में एक भी भाजपा का नहीं

1102
1
SHARE
Survey does not even have one BJP in top 3 CM

केजरीवाल सबसे पसंदीदा सीएम

हाल ही में पॉलिटिकल एडवाइजर ग्रुप I-PAC ने एक सर्वे किया है। इस सर्वे से देश के मौजूदा राजनैतिक परिदृश्य का कुछ हद तक अंदाजा लग रहा है। हालांकि सर्वे में भाजपा के लिए खतरे की घंटी है। दरअसल इस सर्वे के मुताबिक देश के टॉप 3 सीएम में से एक भी भाजपा का सीएम नहीं है।

हालांकि पीएम पद के लिए अभी भी पीएम मोदी देश युवाओं की पहली पसंद बने हुए हैं। राहुल गांधी इस रेस में दूसरे स्थान पर काबिज हैं। बताया जा रहा है कि यह सर्वे देश के 57 लाख लोगों पर किया गया है। जिसके मुताबिक देश के टॉप 3 सीएम में पहले नंबर पर दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का नाम है।

वहीं दूसरे नंबर पर पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी हैं और तीसरे स्थान पर ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक हैं। चौथे नंबर की बात करें तो यहां नंबर बिहार के सीएम और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार का है।

जल्द ही देश के 3 बड़े राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने हैं। ये विधानसभा चुनाव आगामी लोकसभा चुनावों के नजरिए से काफी अहम साबित होंगे। इन तीनों ही राज्यों के मुख्यमंत्रियों को इस सर्वे में टॉप में जगह नहीं मिली है, जो कि भाजपा के लिए चिंता का विषय हो सकती है।

आगामी लोकसभा चुनावों में चुनावी मुद्दों की बात करें तो यहां भी नई तस्वीर उभरती दिखाई दे रही है। सर्वे के मुताबिक आगामी चुनावों में महिला सुरक्षा, किसानों के मुद्दे और आर्थिक समानता सबसे अहम रह सकते हैं। इसके बाद जो मुद्दे खास होंगे, उनमें शिक्षा, स्वास्थ्य और स्वच्छता, सांप्रदायिक सद्भाव, क्षेत्रीय भाषाएं आदि अहम रहेंगे।

इस सर्वे में एक रोचक खुलासा भी हुआ है। दरअसल इस सर्वे में उन गैर-राजनैतिक लोगों के बारे में पूछा गया था, जिन्हें राजनीति में आना चाहिए। ऐसे लोगों में जो हस्तियां शुमार हुई हैं, उनमें आमिर खान, योग गुरु बाबा रामदेव, नोबेल पुरस्कार विजेता कैलाश सत्यार्थी, क्रिकेटर एमएस धोनी, सौरव गांगुली, पूर्व रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन, फिल्म अभिनेता अक्षय कुमार और मशहूर उद्योगपति रतन टाटा का नाम शामिल है। बता दें कि यह सर्वे 18 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों के बीच किया गया है। सर्वे के लिए देश के 7536 कॉलेज छात्रों की राय ली गई।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here