Home दुनिया भारत से जाने वाले हज यात्रियों को सऊदी हुकूमत ने दिया बड़ा...

भारत से जाने वाले हज यात्रियों को सऊदी हुकूमत ने दिया बड़ा झटका, हज करना होगा मुश्किल

79
0
SHARE
saudi-hukumat-has-given-a-huge-blow-to-haj-pilgrims-from-india-haj-has-to-be-difficult
हमारे देश भारत से हर साल लाखों लोग मक्का मदीना की यात्रा के लिए सऊदी अरब जाते हैं. इन यात्रियों के रहने और आने जाने से लेकर हर कार्य सऊदी सरकार के हाथ में होता है जिसे वो अपने तरीके से करती है. हाल ही में सऊदी सरकार ने एक फैसले ने लाखों हाजियों के दिल तोड़ दिए हैं. यह फैसला है आवेदन रद्द करने का.

इस्लाम में हज यात्रा का अहम महत्व

इस्लाम धर्म के पांच फ़र्ज़ में से हज भी एक फ़र्ज़ है जो इंसान को सेहत और दौलत होने की स्थिति में एक बार करना ज़रूरी है. इस्लाम के इन्हीं फ़र्ज़ों को पूरा करने के मकसद से हर मुसलमान हज करना चाहता है.

सऊदी ने रद्द किए हज आवेदन

हर साल लाखों लोग हज यात्रा के लिए आवेदन करते हैं इस बार हज यात्रा के लिए भारत से 30000 आवेदन सऊदी सरकार को भेजे गए लेकिन सरकार ने सिर्फ 12000 आवेदनों को ही स्वीकार किया. सरकार ने आवेदन रद्द करने की वजह बताते हुए कहा था कि हरम शरीफ में निर्माण कार्य चल रहा है जिसकी वजह से ज्यादा लोगों को यहाँ ठहराने पर व्यवस्था चरमरा जाएगी. सारा काम सुचारु तरीके से चलता रहे इसीलिए आवेदन रद्द करने की नौबत आयी है.

यात्रा की आवेदन फीस पर ये बोली सरकार

जिन लोगों ने मक्का मदीना की यात्रा के लिए फीस दी है उन सभी आवेदकों को जानकारी जारी करते हुए सऊदी सरकार ने कहा है कि स्वीकार किये गए आवेदनों के अलावा कुछ लोगों का कुर्रा निकाला जाएगा.


इस कुर्रे में दस हज़ार सीटें हैं और कुर्रे में जिस आवेदक का नाम आएगा उसे ग्रीन केटेगरी में शामिल किया जाएगा और बाकी के आवेदकों की फीस वापिस कर दी जाएगी.

राजस्थान के आवेदकों के लिए ज़्यादा परेशानी

आवेदन रद्द होने से सबसे ज़्यादा परेशानी राजस्थान के आवेदकों को होने वाली है वो इसलिए क्यूंकि इस बार राजस्थान से भारी मात्रा में हज यात्रा के आवेदन किये गए थे. एक अनुमान के मुताबिक राजस्थान के 70 प्रतिशत लोग इससे प्रभावित होंगे. यहाँ से 5961 यात्रियों ने हज के लिए आवेदन किया था.


हज के लिए टीकाकरण जरूरी

उदयपुर. राजस्थान स्टेट हज कमेटी की ओर से हज – 2018 यात्रा पर जाने वाले उदयपुर, राजसमंद, बांसवाड़ा, डूंगरपुर के यात्रियों का टीकाकरण एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम 7 जुलाई छीपा जमातखाना मस्जिद आयड़ में होगा. जानकारी देते हुए जिला हज संयोजक जहिरुद्दीन सक्का ने बताया-


कि स्टेट हज कमेटी चेयरमैन अमीन पठान, यूआइटी चेयरमैन रवींद्र श्रीमाली, महापौर चंद्रसिंह कोठारी, हज ट्रेनर नबीअली गौरी, डॉ. फारूख हुसैन इस मौके पर यहाँ मौजूद रहेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here