Home समाचार हिन्दू लड़की का इस्लाम अपनाना और मुस्लिम लड़के से शादी करना लव...

हिन्दू लड़की का इस्लाम अपनाना और मुस्लिम लड़के से शादी करना लव जिहाद नही है: सरकार ने दिया जवाब

635
0
SHARE
hindu-girl-marriage-muslim-boy-its-not-lovejihad

केरल: पी विजयन सरकार ने आज सुप्रीम कोर्ट को बताया कि हिंदू महिला का इस्लाम धर्म कबूल कर मुस्लिम लड़के से शादी करना लव जिहाद नहीं है. केरल सरकार ने बताया कि पुलिस ने हिंदू महिला के इस्लाम धर्म कबूल करने के बाद मुस्लिम लड़के से शादी के मामले की ‘‘गहन जांच’’ की गई है. जांच में ऐसा कुछ नहीं मिला कि जिससे मामले की छानबीन NIA को दी जा सके.

मुस्लिम लड़के से शादी करना लव जिहाद नही है….

बतादें कि सुप्रीम कोर्ट ने NIA को निर्देश दिया था कि वह इस बात की जांच करे कि इस मामले में कथित लव जिहाद का कोई व्यापक पहलू तो शामिल नहीं है. इस मामले में हिंदू महिला हादिया ने अपना धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल कर लिया था और बाद में केरल के एक मुस्लिम युवक शफीन से शादी कर ली थी.

हमने अदालत के आदेश का पालन किया….

केरल सरकार ने कहा हमने जांच एनआईए को सौंपने के अदालत के आदेश का पालन किया. लेकिन पुलिस को अब तक किसी ऐसे अपराध का पता नहीं चला है जिससे वैधानिक तौर पर मामले को एनआईए के हवाले किया जा सके. पिछले दिसंबर में महिला से शादी करने वाले मुस्लिम युवक ने इस मामले में याचिका दायर की थी.

शफीन ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की थी याचिका….

उच्च न्यायालय की ओर से अपनी शादी रद्द करने के फैसले को चुनौती देते हुए शफीन ने हाल ही में सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दाखिल कर उस आदेश को वापस लेने की मांग की थी जिसमें मामले की जांच NIA को सौंपने की बात कही गई थी. शफीन ने दावा किया था कि महिला ने अपनी शादी से कई महीने पहले धर्मांतरण किया था और शादी एक वैवाहिक वेबसाइट के जरिए तय हुई थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here